मंजिलें और भी हैं !!!

                           ख्वाब नये हैं, ख्वाहिशें और भी हैं |
                          रास्ते और भी हैं, मंजिलें और भी हैं |
                          तुम हमें भूल जाओ हम तुम्हें भूल जायेंगे  
                          मेरे पास याद करने को बातें और भी हैं |
                          तेरे दर से गए, लौट कर ना आयेंगे हम
                          इस शहर में मेरे ठिकाने और भी हैं |
                          यूँ तो तुम थी एक खूबसूरत हसीना
                          इस जहाँ में मुझे चाहने वाले और भी हैं |
                         पलकें ना भीगेंगी तेरी याद में फिर कभी
                         मेरे पास आंसू बहाने के बहाने और भी है |
                         मत समझना कि तुम मेरी जिन्दगी थी
                         यहाँ रास्ते और भी हैं , मंजिलें और भी हैं |